खरीफ एवं रबी फसल

खरीफ फसलें भारत में प्रमुख खाद्यान्न फसलें हैं। वे देश के लगभग 75% कृषि क्षेत्र में उगाई जाती हैं। खरीफ फसलों में चावल, मक्का, बाजरा, ज्वार, सोयाबीन, कपास और मूंगफली शामिल हैं।

रबी फसलें भी भारत में महत्वपूर्ण हैं। वे देश के लगभग 25% कृषि क्षेत्र में उगाई जाती हैं। रबी फसलों में गेहूं, जौ, जई, चना, मसूर, सरसों और अलसी शामिल हैं।

खरीफ फसल

भारतीय उपमहाद्वीप में खरीफ की फसल उन फसलों को कहते हैं जिन्हें जून-जुलाई में बोते हैं और अक्टूबर- नवम्बर के आसपास काटते हैं। अतः वे फसलें जिन्हें वर्षा ऋतु में बोया जाता है, खरीफ फसल कहलाती है। धान, मक्का, सोयाबीन, मूंगफली, बाजरा, गन्ना, अरण्डी, ग्वार, अफीम, सूरजमुखी आदि खरीफ फसलें हैं।nइन फसलों को बोते समय अधिक तापमान एवं आर्द्रता आवश्यकता होती है। इन फसलों को पकते समय शुष्क वातावरण की आवश्यकता होती है।

खरीफ फसलों को मुख्य रूप से दो वर्गों में बांटा जा सकता है:

  • खाद्यान्न फसलें: इन फसलों का उपयोग भोजन के लिए किया जाता है। उदाहरण: धान, मक्का, ज्वार, बाजरा, मूंग, मूंगफली, सोयाबीन, आदि।
  • नकदी फसलें: इन फसलों का उपयोग व्यापार के लिए किया जाता है। उदाहरण: कपास, पटसन, गन्ना, आदि।

खरीफ फसलों की कुछ प्रमुख विशेषताएं निम्नलिखित हैं:

  • ये फसलें गर्म और आर्द्र मौसम में उगती हैं।
  • इन फसलों को उगाने के लिए पर्याप्त मात्रा में पानी की आवश्यकता होती है।
  • इन फसलों को उगाने के लिए सिंचाई की आवश्यकता होती है।
  • इन फसलों की कटाई अक्सर अक्टूबर-नवंबर के महीने में की जाती है।

रबी फसल

शीत ऋतु में उगाई जाने वाली फसलें रबी फसलें के कहलाती है। गेहूं, चना, मटर, सरसों, अलसी, आदि रबी फसलें हैं।

विशेषताखरीफ फसलरबी फसल
नामअरबी शब्द “खरीफ” से आया है, जिसका अर्थ है “पतझड़”।अरबी शब्द “रबी” से आया है, जिसका अर्थ है “बसंत”।
बुवाई का समयजून-जुलाईअक्टूबर-नवंबर
कटाई का समयअक्टूबर-नवंबरमार्च-अप्रैल
जलवायुगर्म और आर्द्रठंडी और शुष्क
जल की आवश्यकताअधिककम
उपजअधिककम
उदाहरणचावल, मक्का, बाजरा, सोयाबीन, कपास, मूंगफली, गन्नागेहूं, जौ, जई, चना, मसूर, सरसों, अलसी
खरीफ एवं रबी फसल